पशुओं की स्मगलिंग और हवाला के जरिये 1000 करोड़ का मालिक बन बैठा इनामुल हक़ : 24 दिसंबर तक CBI हिरासत में 

सीमा सुरक्षा बल के एक अधिकारी के साथ मिलीभगत करके सीमा पार को गौधन एवं अन्य पशुओं की स्मगलिंग करने वाला और पशु स्मगलरों का सरताज कहलाने वाला पश्चिम बर्धमान का निवासी इनामुल हक़ अब सीबीआई की गिरफ्त में है।  कोलकाता उच्च न्यायालय ने उसे ,पूछताछ के लिए सीबीआई की रिमांड पर भेज दिया गया है।

इमानुल हक़ उस वक्त पहली बार सीबीआई के रडार पर  सीमा सुरक्षा बल के अधिकारी कमांडेंट जिबु मैथ्यू को सीबीआई ने अलपुझा रेलवे स्टेशन पर 47 लाख रुपए नकद के साथ पकड़ा था।यह रकम उसकी आय से कहीं अधिक होने के कारण , पूछताछ में उसने ये सारा सच स्वीकार कर लिया कि यह अवैध धन उसने अपने स्मगलर साथी हक़ के माध्यम से कमाया था।  

वर्ष 2018 में शुरू हुई सीबीआई की इस प्रारंभिक जाँच में सीमा सुरक्षा बल की 36वीं बटालियन के कमांडेंट सतीश कुमार का नाम आने के बाद ये सारा प्रकरण जाँच एजेंसियों के रडार पर आ गया था।

सूत्रों के अनुसार सीमापार बांग्लादेश को किये जा रहे गौधन की इस पशु स्मगलिंग का मुख्य कर्ता धर्ता इनामुल हक़ , इस अवैध धंधे से और अपने दुबई के सहयोगियों से हवाला के जरिये लगभग 1000 करोड़ की संपत्ति का मालिक बना हुआ था।  लालगोला , मुर्शिदाबाद ,कोलकाता और दुबई में भी इसकी कई बेनामी सम्पत्तियों का खुलासा हुआ है।  

सीबीआई को मिली यह सफलता सीमा पार बांग्लादेश को किये जा रहे गौ धन की समग्लिंग के अवैध धंधे /अपराध को रोकने में एक बड़ा कदम माना जा रहा है।

ताज़ा पोस्ट

एक देश एक कानून से ही बंद होगा ये सब तमाशा

थोड़े थोड़े दिनों के अंतराल पर , जानबूझकर किसी भी बात बेबात को जबरन तूल देकर मुद्दा बनाना और फिर उसकी आड़ में देश...

भाजपा को साम्प्रदायिक दिखाते दिखाते खुद ही कट्टरपंथी हो गया पूरा विपक्ष

यही होता है जब झूठ पर तरह तरह का लेप चढ़ाकर उसे सच बताने /दिखाने और साबित करने की कोशिश की जाती है और...

मुस्लिमों का मसीहा बनने के लिए क्यों जरूरी है :हिन्दुओं के विरूद्ध ज़हर उगलना

सड़क पर चलता हुआ एक अदना सा कोई भी ; एक पुलिस अधिकारी को उसका चालान किए जाने को लेकर सार्वजनिक रूप से धमकाते...

ममता से लेकर चन्नी तक : मोदी विरोध में मुख्यमंत्रियों द्वारा की जा रही बदगुमानी/दुर्व्यवहार -अनुचित परिपाटी 

अब से कुछ ही महीनों पहले प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी जी की और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की एक आधिकारिक मुलाकात चर्चा का...

20 करोड़ हैं :हम भी लड़ेंगे : फिर छलका नसीरुद्दीन शाह का मुग़ल प्रेम

फिल्म जगत में पिछले कई दशकों से सक्रिय और अपने मज़हबी मुगलाई एजेंडे को चुपचाप चलाने वाले तमाम लोग इन दिनों नकली बौद्धकता और...

यह भी पसंद आयेंगे आपको -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

ई-मेल के जरिये जुड़िये हमसे